आज आ सकती है श्री हजूर साहिब से लौटे 14 श्रद्धालुओं की रिपोर्ट





20 दिन में दो कोरोना पॉजिटिव मरीजों को ठीक कर कपूरथला ऑरेंज जोन से ग्रीन जोन में पहुंचा था। सोमवार को हजूर साहिब से लौटे 25 श्रद्धालुओं में 3 की रिपोर्ट पॉजिटिव आने से कपूरथला फिर से ऑरेंज जोन में आ गया। 8 श्रद्धालुओं की रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है। 14 श्रद्धालुओं के टेस्ट जांच के लिए भेजे हैं। अब तक इनकी रिपोर्ट नहीं आई है। बुधवार को इन श्रद्धालुओं की रिपोर्ट आने की संभावना है। मंगलवार कोटा से 4 स्टूडेंट्स कपूरथला पहुंचे हैं। सेहत विभाग ने चारों स्टूडेंट्स का कोरोना टेस्ट लेकर जांच के लिए भेज दिए हैं।
स्टूडेंट्स को 14 दिन के लिए आइसोलेशन वार्ड में रखा जाएगा। वहीं, श्री हजूर साहिब से गांव टिब्बा का एक और श्रद्धालु लौटा है। श्रद्धालु को सिविल अस्पताल आइसोलेशन वार्ड में रखा है। जांच के लिए उसका भी टेस्ट लेकर भेजा गया है। रिपोर्ट आने के बाद उसे घर भेजा जाएगा। मंगलवार को सेहत विभाग ने कुल 5 टेस्ट जांच के लिए भेजे हैं।

प्रशासन के आदेश पर फगवाड़ा के मरीज कपूरथला में भर्ती
इधर सेहत विभाग ने फगवाड़ा में सामने आए 3 कोरोना पॉजिटिव मरीजों को कपूरथला सिविल अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कर दिया है। चर्चा थी कि फगवाड़ा के मरीजों को फगवाड़ा में ही आइसोलेट किया जाए लेकिन अब फिर से फगवाड़ा के तीनों मरीज कपूरथला में लाए गए हैं। इन मरीजों का चेकअप किया जा रहा है। दूसरी तरफ डीसी दीप्ति उप्पल ने साफ किया कि श्री हजूर साहिब या अन्य राज्यों से कोई भी वापस लौटता है तो वह प्रशासन को सबसे पहले सूचना दें। किसी भी राज्य से पंजाब में आने वाले का सबसे पहलेे चेकअप होगा। कोरोना टेस्ट लिया जाएगा। प्रशासन की आज्ञा पर ही उसे 14 दिन बाद घर भेजा जाएगा। जो कानून का उल्लघंन करेगा, उस पर कार्रवाही भी हो सकती है।

कोटा से विद्यार्थी बस में लौटे
मंगलवार सुबह कोटा से 4 स्टूडेंट्स कपूरथला पहुंचे हैं। इन स्टूडेंट्स को बस के रास्ते लाया गया है। बस में 15 स्टूडेंट्स कोटा से पहुंचे हैं। जिनमें मोगा के 1, जालंधर के 10 और कपूरथला के 4 स्टूडेंटस शामिल हैं। कपूरथला के 4 स्टूडेंट्स को आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है। स्टूडेंट्स के टेस्ट लेकर जांच के लिए भेजे गए है। जिनकी रिपोर्ट बुधवार या वीरवार को आएगी। स्टूडेंट्स को 14 दिन आइसोलेशन वार्ड में ही रहना होगा।

पंजाब आने से पहले स्क्रीनिंग न करने के लिए गठित हो कमेटी : मित्तल
वहीं, फगवाड़ा में श्री हजूर साहिब से लौट कर आए श्रद्धालुओं का कोविड-19 सैंपल पॉजिटिव आने के बाद फगवाड़ा के लोगों और समाज सेवक सुरेंद्र मित्तल ने पंजाब सरकार पर सवालिया निशान खड़े किए हैं। उनका कहना है फगवाड़ा ग्रीन जोन की ओर बढ़ रहा था। पिछले 72 घंटे तक कोई भी कोविड-19 की रिपोर्ट पॉजिटिव नहीं आई थी। फगवाड़ा में कोविड-19 की रिपोर्ट में बढ़ोतरी करने के लिए कौन जिम्मेदार है।

यदि श्रद्धालुओं को पंजाब में लाया जा रहा था तो इसकी स्क्रीनिंग पहले क्यों नहीं की गई। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को जांच टीम गठित करनी चाहिए। जांच में दोषी पाए जाने वाले अफसर पर तुरंत कार्रवाई की जानी चाहिए। उन्होंने मांग की कि इसकी जल्द से जल्द निष्पक्षता से जांच की जाए।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Report of 14 pilgrims returning from Shri Hazur Sahib today



Source link

101 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *