शर्मनाक : अमृतसर के गुरु नानक देव अस्पताल में 2 बच्चियों के भ्रूण मिलने से मचा हड़कंप, कुत्तों ने नोचा

अमृतसर,  शहर के गुरुनानक देव अस्पताल में दो बच्चियों के भ्रूण को फेंकने का शर्मनाक मामला सामने आया है। अस्पताल में एक भ्रूण पार्किंग के समीप फेंका गया था और दूसरी मेडिसिन वार्ड के बाहर खाली प्लाट में मिला। दर्दनाक पहलू यह भी है कि दोनों बच्चियों की मौत हो गई।

अस्पताल प्रशासन के अनुसार दोनों फीमेल भ्रूण थे और हो सकता है कि कोई शख्स इन्हें अस्पताल के बाहर फेंक गया हो। कुत्तों ने इन्हें लौटते हुए अस्पताल कैंपस तक ले आए हो। प्रशासन का मानना है कि अल सुबह कोई अज्ञात व्यक्ति बच्चियों के भ्रूण यहां फेंंक गया होगा। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है। सीसीटीवी फुटेज खंगाली जा रही है।  ध्यान रहे कि गुरु नानक देव अस्पताल में पहले भी ऐसा एक मामला सामने आ चुका है। साल 2019 में भी इसी अस्पताल में एक बच्ची का शव बरामद हुआ था। आज तक पुलिस उस मामले का भी सुराग नहीं लगा पाई।

नहीं दिया ब्लड, नवजात बच्ची की हुई मौत

इससे पहले शुक्रवार शाम को गुरु नानक देव अस्पताल उस समय चर्चा में आ गया, जब यहां ब्लड बैंक में कार्यरत टेक्नीशियन शराब के नशे में धुत मिला था। अस्पताल में पांच दिन पूर्व जन्म में एक नवजात शिशु के लिए रक्त की जरूरत पड़ी तो अभिभावक ब्लड बैंक पहुंचे। शराब के नशे में धुत्त इस टेक्नीशियन ने ब्लड देने से इन्कार कर दिया। परिणामस्वरूप बच्चे की मौत हो गई। इस घटना के बाद गुस्साए स्वजनों ने टेक्नीशियन गुरप्रीत सिंह की जमकर पिटाई की। मौके पर पुलिस भी पहुंची और शहर की प्रमुख ब्लड डोनेशन सोसायटी के प्रमुख भी। पुलिस व ब्लड डोनेशन सोसायटी से संबंधित लोगों ने गुरप्रीत की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाए। दूसरी तरफ शराब के नशे में धुत गुरप्रीत को होश नहीं थी।

42 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *