दो बच्चियों से दूर कोरोना आइसोलेशन वार्ड में नर्स प्रभजोत कौर ने निभाई जिम्मेदारी

 

घर में दो छोटी बेटियों के पालन की जिम्मेदारी और दूसरी ओर कर्तव्य का पालन। दोनों ही महत्वपूर्ण थे, लेकिन सिविल अस्पताल के कोरोना सेंटर में तैनात नर्स प्रभजोत कौर ने अपनी नन्ही बेटियों की चिंता न कर अपने कर्तव्य को प्राथमिकता दी। मरीजों की सेवा करते-करते प्रभजोत खुद कोरोना संक्रमित हो गई। इसके बावजूद उसने धैर्य नहीं खोया और खुद को बेटियों से दूर क्वारंटाइन होकर कोरोना को हराया और फिर से अपनी ड्यूटी में तैनात हो गई।

 

प्रभजोत बताती हैं कि लुधियाना के सिविल अस्पताल में मार्च 2020 में कोरोना काल के शुरूआती दौर में ही उसकी ड्यूटी कोरोना सेंटर पर लगी। आरंभ में इस बीमारी को लेकर थोड़ा हिचकिचाहट और डर था, लेकिन कर्तव्य पालन के सामने वह डटी रही। नियमित तौर पर सिविल अस्पताल में बने आइसोलेशन वार्ड में इंचार्ज के तौर पर कोरोना के मरीजों की देख रेख करती रही। प्रभजोत कहती हैं कि कोरोना वार्ड में ड्यूटी के बाद जब वह घर जाती थी तो वह खास एहतियात रखती रही।

 

23 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *