Cricket Australia Sets Testosterone Limit for Transgender Players | sports – News in Hindi

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने गुरुवार को खिलाड़ियों के लिए नई गाइडलाइंस जारी की हैं. इस गइडलाइंस के मुताबिक अब ट्रांसजेंडर भी खेल का हिस्सा होंगे लेकिन उन्हें कुछ नियमों जारी किए गए हैं. नए नियमों के मुताबिक जो ट्रांसजेंडर खिलाड़ी महिला टीम के लिए खेलना चाहते हैं उन्हें टेस्टोस्टेरोन टेस्ट देना होगा.

नियमों के मुताबिक देश की बड़ी महिला टीमों के लिए खेलने से पहले खिलाड़ियों को साबित करना होगा कि पिछले एक साल से उनका टेस्टोस्टेरोन स्तर 10 नैनोमोल्स पर लिटर से कम है. उन्हें दिखाना होगा कि वह जिस जेंडर के वह उसी के मुताबिक अपना जीवन भी जीते हैं. बोर्ड की यह पॉलिसी ऑस्ट्रेलिया के कमयुनिटी क्लब पर भी लागू होगी. ऑस्ट्रेलिया की दिग्गज और न्यू साउथ वेल्स की बोर्ड मेंबर एलेक्स ब्लैकवेल ने इस फैसला का स्वागत किया है. क्रिकेट.कॉम.एयू से बातचीत में उन्होंने कहा, ‘ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट का यह फैसला शानदार है खासकर उस देश के लिए जहां इस खेल को इतना पसंद किया जाता है. अब यह खेल सभी के लिए है.’

एलेक्स ब्लैकवेल ने किया फैसले का स्वागत

उन्होंने आगे कहा, ‘इस फैसले के बाद सब को ऐसा एहसास होगा कि यह खेल सभी के लिए है. इस खेल में उतरने के बाद ना सिर्फ उनका स्वागत किया जाएगा बल्कि वह सुरक्षित भी महसूस करेंगे. मुझे गर्व है कि ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट बोर्ड ने ट्रांसजेंडर डाइवर्स पॉलिसी को शामिल किया है. इस फैसले तक पहुंचने के लिए छह महीने का समय लगा लेकिन मैं जानती थी कि यह बेहद जरूरी है और मैं इसके लिए कुछ भी करने को तैयार थी, इसी कारण मुझे खुशी है कि आखिरकार ऐसा हो रहा है.’ ब्लैकवेल की इस मुहीम में उनकी साथी खिलाड़ी और दोस्त ऐरिका जेम्स भी साथ थी. ब्लैकवेल एलजीबीटीआई की एडवोकेट हैं जिसके चलते वह इसके लिए लंबे समय से कोशिश कर रही है.

Source link

11 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *